AEROSOL, TRACE GASES AND RADIATIVE FORCING (ATRF) BRANCH

ऐरोसॉल, ट्रेस गैस तथा रेडिएटिव फोर्सिंग

Aerosols Trace gases and Radiative Forcing (ATRF) Branch of SPL aims at scientific understanding of the physical/chemical properties of aerosols and trace gases, involving processes that control their three-dimensional atmospheric distribution and interaction with radiation leading to climate changes. The primary objectives are (i) development of spatially and temporally resolved aerosol and trace gas database over the Indian subcontinent, adjoining oceans as well as the Himalayan and Polar environments by combining the space borne and ground-based observations, (ii) conducting thematic multi-platform (ship, aircraft, and high altitude balloon) field experiments addressing specific problems pertinent to the climate impact of aerosols and trace gases, (iii) assimilation of the aerosol and trace gas data with regional climate models for the assessment of potential climate impact

एसपीएल की ऐरोसॉल ट्रेस गैस एवं रेडिएटिव फोर्सिंग (एटीआरएफ) शाखा ऐरोसॉलों और ट्रेस गैसों के भौतिक/रासायनिक गुणधर्मों के वैज्ञानिक समझ को लक्ष्य करती है, जिनमें वे प्रक्रियाएं शामिल हैं जो त्रिविमीय वायुमंडलीय वितरण एवं विकिरण से अन्योन्यक्रिया है जिसके कारण जलवायु में परिवर्तन हो जाते हैं। इस शाखा के मुख्य लक्ष्य हैं (i) अंतरिक्ष-वाहित तथा भू-आधारित प्रेक्षणों को मिलाते हुए भारतीय उपमहाद्वीप, साथ में लगे हुए महासागरों एवं हिमालयी व घ्रुवीय पर्यावरणों के ऊपर दिगीय और अस्थाई रूप से निश्चित ऐरोसॉल व ट्रेस गैस डेटाबेस का विकास, (ii) ऐरोसॉलों व ट्रेस गैसों के जलवायु प्रभाव के लिए प्रासंगिक विशेष समस्याओं का हल निकालते हुए विषयक बहु-मंचीय (जहाज़, वायुयान व उच्च तुंगता गुब्बारा) क्षेत्रीय प्रयोगों का आयोजन, (iii) संभाव्य जलवायु प्रभाव के निर्धारण हेतु क्षेत्रीय जलवायु नमूनों के साथ ऐरोसॉल व ट्रेस गैस आंकड़ों को आत्मसात करना। 

 

 

 

 

 

 

Hits: Month 875 Total Hits: 38727

Site Last Updated: 18 November 2021